वेदांत सेवा समिति

समिति एक समाज सेवा संगठन है समिति द्वारा चिकित्सा स्वास्थ्य सेवा व शिक्षा के क्षेत्र में स्कूल खोल कर निशक्त व गरीब बालक बालिकाओं को शिक्षा दिलाने का मुख्य कार्य है वेदांत सेवा समिति की नीवं संत श्री मूलचंद सैनी ने सन 1985 में रखी यहां प्रेम आश्रम के नाम से आध्यात्मिक आश्रम है यहां निशक्त जनों को निशुल्क भोजन व्यवस्था है प्रेम आश्रम जयपुर से 101 किलोमीटर दूर है अलवर से 40 किलोमीटर दूर राजस्थान क्षेत्र में है आश्रम के संचालन श्री हरिराम जी महाराज द्वारा किया जाता है प्रेम आश्रम दरबार में लोग मानसिक शांति के लिए दूर-दूर से भगवान के दर्शन करने आते हैं संत श्री 1008 श्री हरिराम जी महाराज का कहना है कि “मानव सेवा परमो धर्मो” मनुष्य की सेवा ही सच्ची सेवा है |

शिक्षा क्षेत्र में ग्राम पंचायतों में तहसील स्तरों पर उप समितियां बना कर जन कल्याण हेतु 10वीं 12वीं की स्कूल खोलने की योजना से गांव में बेरोजगारों को रोजगार मिलेगा वह गरीब परिवार के बच्चों को निशुल्क शिक्षा मिलेगी वह चिकित्सा क्षेत्र में जन कल्याण हेतु 30 बेड का अस्पताल तहसीलों में व 50 बेड के अस्पताल जिलों में खुलने से ग्रामीण लोगों को निशुल्क परामर्श पर स्वास्थ्य लाभ मिलेगा |